My Blog List

Monday, October 15, 2012

दिल पे रख ले यार

वैज्ञानिक  सर जान गार्डन जिन्हें चिकित्सा के क्षेत्र  में अतुलनीय योगदान के लिए इस साल नोबल सम्मान दिया जा रहा है,जब वे स्कूल में थे तो उनके विज्ञानं के शिक्षक ने उनके कार्य को घटिया कहा  था और परीक्षा में सबसे कम अंक दिए थे और कहा था ---"यह समय की बर्बादी है और हास्यास्पद भी "!

आज जब चारो तरफ  उनकी चर्चा है ,बहुत ही सहेज कर रखे गए अपने उस रिपोर्ट कार्ड को उन्होंने मीडिया  को दिखाया ! सोचता हूँ रिपोर्ट कार्ड से भी ज्यादा उन्होंने  अपने शिक्षक की टिप्पड़ी को  सहेज कर रखा !

No comments:

Post a Comment